Author: admin

Ancient Science of Choti yani ShikhaAncient Science of Choti yani Shikha

चोटी रखने का महत्व :– सुश्रुत संहिता में लिखा है कि , मस्तक के भीतर ऊपर जहां बालों का आवृत (भंवर) होता है, वहां सम्पूर्ण नाडिय़ों व संधियों का मेल

Story of Shree Mahadev as TripurariStory of Shree Mahadev as Tripurari

त्रिपुर संहार महादेव कैसे कहलाये त्रिपुरारि.तीन प्रसिद्ध पुर जिन्हे “त्रिपुर” कहा जाता था औरइसका विनाश स्वयं महादेव ने किया और “त्रिपुरारि” कहलाये.तारकासुर के विषय में हम सभी जानते हैं। उसने

5 Types of Yagas5 Types of Yagas

वेदानुसार पांच प्रकार के यज्ञ〰️ 〰️ 🔸 〰️ 🔸 〰️ 🔸 〰️ 〰️ ब्रह्मयज्ञ, 2. देवयज्ञ, 3. पितृयज्ञ, 4. वैश्वदेव यज्ञ, 5. अतिथि यज्ञ।उक्त पांच यज्ञों को पुराणों और अन्य

Why Ladies should not go to burial sitesWhy Ladies should not go to burial sites

महिलाओं को क्यों नहीं है श्मशान घाट में जाने की इजाजत〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️प्राचीन हिंदू शास्त्रों में महिलाओं को बेहद आजादी दी गई है। इन ग्रंथों में कहीं भी नहीं लिखा है कि

Story of Maharaj Vikramadity and Vikram SamvatStory of Maharaj Vikramadity and Vikram Samvat

वो विक्रम संवत की रचना करने वाला ‘राजा’ जिसे भूल गये हमारा इतिहास, भारत को बनाया था ‘सोने की चिड़िया’हम बात कर रहे हैं महाराज विक्रमादित्य के बारे में, जिनके

Ayurvedic tips 25 November 2020Ayurvedic tips 25 November 2020

शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए अचूकनीम, हल्दी, तुलसी औरगिलोय का चूर्ण ले।शरीर को आक्सीडेंट के लिए अलसी का सेवन करें।पिस कर आटा कोरोटी में मिलाकर सेवन

Astrology tips about Rahu 25 NovemberAstrology tips about Rahu 25 November

जानिए राहु से प्रभावित (ग्रस्त) मनुष्य के लक्षण, कारण और निवारण (उपाय)— हम जहां रहते हैं वहां कई ऐसी शक्तियां होती हैं, जो हमें दिखाई नहीं देतीं किंतु बहुधा हम

Dev Probodhini EkadashiDev Probodhini Ekadashi

देवप्रबोधिनी एकादशी विशेष〰〰🌼〰🌼〰🌼〰〰देवप्रबोधिनी एकादशी को देव उठनी एकादशी और देवुत्थान एकादशी के नाम से भी जाना जाता है इस वर्ष देवप्रबोधिनी एकादशी बुधवार नवम्बर 25 को पड़ रही है। हिन्दू

The 5 Villages of MahabharatThe 5 Villages of Mahabharat

इन पांच गांवों के ना मिलने का कारण भी हुआ था कौरवों और पांडवों में महाभारत का युद्ध!!!!!! कुरु देश की राजधानी थी हस्तिनापुर। उत्तरप्रदेश के मेरठ का क्षेत्र उस