Calcium from food

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  


अगर दूध पीना पसंद नहीं, तो इन 8 चीजों को खाने से केल्शियम कि कमी होगी पूरी

1.बीज :अलसी, कद्दू और तिल के बीज कैल्शियम के अच्छे स्रोत होते हैं। इनमें कैल्शियम के साथ-साथ प्रोटीन और ओमेगा-3 फैटी एसिड भी पर्याप्त मात्रा में होता है।

  1. दही :एक कप सादे दही में 30 प्रतिशत कैल्शियम के साथ-साथ फास्फोरस, पोटेशियम, विटामिन B2 और B12 होता है, इसीलिए यदि आपको दूध नहीं पसंद तो आप दही खा सकते हैं।
  2. बीन्स :एक कप बीन्स में 24 प्रतिशत तक कैल्शियम होता है इसीलिए बीन्स को आपनी डाइट में शामिल करने से शरीर में कैल्शियम की कमी पूरी हो जाती है।
  3. पनीर :पनीर में भी भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है। पनीर सेवन करने से शरीर में कैल्शियम के साथ-साथ प्रोटीन की भी कमी भी पूरी हो जाती है।
  4. बादाम :बादाम खाने से भी हड्डियां मजबूत होती है क्योंकि इसमें भी कैल्शियम पाया जाता है।
  5. पालक :पालक में भी भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है। 100 ग्राम पालक में 99 मि.ली कैल्शियम होता है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए हफ्ते में कम से कम 3 बार पालक जरूर खाएं।
  6. सोया दूध या टोफू :अगर आपको दूध पीना पसंद नहीं है तो आप सोया दूध या टोफू को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इनका स्वाद दूध के स्वाद से काफी अलग होता है। इनमें कैल्शियम प्रचुर मात्रा में होता है।
  7. भिंडी :एक कटोरी भिंडी में 40 ग्राम कैल्शियम होता है। भिंडी को हफ्ते में दो बार खाने से दांतों खराब नहीं होते और हड्डियां भी मजबूत होती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen − 2 =

Related Posts

Jalne par kya karen

Spread the love          Tweet     जलन और घाव शरीर तब जलता है जब शरीर तेज रसायन और आग के सीधे सम्पर्क में आता है या फिर बहुत ही नजदीक जाता है। अक्सर इस

Healthy food

Spread the love          Tweet     प्रकृति के संकेत खाद्य पदार्थ— अखरोट की रचना सिर की तरह होती है तथा उसके अंदर भरा हुआ गूदा मस्तिष्क की तरह होता है। यही गूदा पर्याप्त मात्रा

Make your Lungs strong

Spread the love          Tweet     फेफड़े स्वस्थ हों तो दिमाग़ स्वस्थ व तेज़ बना रहता है। 40 से 85 के बीच की आयु वाले 832 लोगों पर हुआ शोध। धूम्रपान, तम्बाकू और वायु