Science of Navratri Food items

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नवरात्रि के व्रत में
खाए जाने वाली चीज़े
और इनके फायदे-

1 – पपीता –

व्रत के दौरान इससे पेट साफ होता है , और रोग प्रति रोधक श्रमता बढ़ती है ।

2 – मौसमी –

व्रत के इस मौसम में संक्रमण रोग हावी रहते है ऐसे में विटामिन – सी से भरपूर मौसमी सक्रमण से बचाती है ।

3 – केला –

यह एनर्जी बूस्टर का काम करता है और व्रत की थकान होने से बचाता है ।

4 – सिंघाड़ा –

इसे खाने से आलस व् अकड़न दूर होती है और हड्डियो को केल्सियम मिलता है ।

5 – छाछ –

पानी की कमी न होने देता

6- आलू –

उभला या भुना आलू पोटेशियम का प्रभावी स्त्रोत है शरीर में श्ररो की मात्रा बढ़ाने या बराबर रखने में मददगार होता है आलू शरीर में एसिडिटी भी नहीं होने देता है , जो लोग ब्लड प्रेशर या केंसर से ग्रसित है उनके लिए यह फायदे मंद है , आलू में सोडा , पोटाश , और विटामिनA और D भी होता है आलू का सबसे पोस्टिक तत्व विटामीन C होता है ।

7- साबुन दाना –

साबुन दाना शरीर में जमा अतिरिक्त पानी को निकलने का काम करता है यह किडनी की सफाई का भी काम करता है ।
8 – नारियल पानी – यह शरीर में व्रत के दौरान हुए इलेक्टो लाइट असंतुलन को कम करने का काम करता है ।

9 – कुट्टू –

इसका आटा , हलवा , दलिया , या खीर आशानि पय जाता है व् व्रत में भी पाचन तंत्र को दुरुस्त रहता है लेकिन इन्हें पकाने के लिए घी आदि का प्रयोग न करे वर्ना सेहत को नुकसान होगा ।

10 – सेंधा नमक –

सेंधा नमक वात , कफ , और पित को दूर करता है पाचन में सहायता होता है सेंधा नमक में पोटेशियम और मैग्नीशियम होता है ह्रदय रोग नही होता है ।

11 – दही –

दही में भरपूर मात्रा में केल्शियम और पोटेशियम होता है दही खाने से पाचन ठीक रहता है मन को शांत करता है लेकिन रात को दही ना खाये खाये तो चोक कर खाये ।

12 – मूँगफली –

मूँगफली में आयरन , नियासिन , फोलेट , केल्शियम और जिंक होता है मूँगफली में 426 केलोरिज , 5 ग्राम कार्बो हैड्रेडट होता है 17 ग्राम प्रोटीन और 35 ग्राम फेट होता है थोड़े से मूँगफली में विटामिन e , k , भी और b6 भी भरपूर मात्रा में होता है त्वचा में चमक आती है मूँगफली खाने से कब्जी की समस्या नहीं होती है गैस और एसिडिटी की समस्या से भी राहत मिलती है मूंगफली में आमेगा – 6 फेट भी भरपूर मात्रा में मिलता है ।

13 – मखाना –

मखाना खाने से तुरंत एनर्जी देता है जल्दी पच जाता है तनाव कम होता है और नींद अछि आती है रात में सोते समय दूध के साथ मखाने खाने ने नींद अछि आती है मखाने को घी में भूनकर चाय के साथ ले सकते है मखाने की खीर भी खाये ।

आइए जानते हैं इन 9 दिनों में क्या करें, क्या न करें :-

  1. व्रत रखने वाले को जमीन पर सोना चाहिए।
  2. ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए।
  3. व्रत करने वाले को फलाहार ही करना चाहिए।
  4. नारियल, नींबू, अनार, केला, मौसंबी और कटहल आदि फल तथा अन्न का भोग लगाना चाहिए।
  5. व्रती को संकल्प लेना चाहिए कि वह हमेशा क्षमा, दया, उदारता का भाव रखेगा।
  6. इन दिनों व्रती को काम, क्रोध, मोह, लोभ आदि दुष्प्रवत्तियों का त्याग करना चाहिए।
  7. देवी का आह्वान, पूजन, विसर्जन, पाठ आदि सब प्रात:काल में शुभ होते हैं अत: इन्हें इसी दौरान पूरा करना चाहिए।
  8. यदि घटस्थापना करने के बाद सूतक हो जाएं तो कोई दोष नहीं होता, लेकिन अगर पहले हो जाएं तो पूजा आदि न करें।
  9. देवी को लाल रंग के वस्त्र, रोली, लाल चंदन, सिन्दूर, लाल साड़ी, लाल चुनरी, आभूषण तथा खाने-पीने के सभी पदार्थ जो लाल रंग के होते हैं, वही अर्पित किए जाते हैं।

।। जय माँ शारदे ।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 4 =

Related Posts

Remedies for Piles 22 October 2020

Spread the love          Tweet     पाइल्स की समस्या से राहत पाने के लिए अपनाएं ये 5 कारगर उपाय गरम पानी की सेंक करें – कुछ देर के लिए गर्म पानी के टब में

Who am I

Spread the love          Tweet      🧘‍♂ मै क्या हूँ ? 🌹 मनुष्य शरीर में रहता है, यह ठीक है, पर यह भी ठीक है कि वह शरीर नहीं है। जब प्राण निकल

Mrityu and Mukti

Spread the love          Tweet     मृत्यु और मुक्ति क्या है? मोक्ष का अर्थ होता है मुक्ति। अधिकतर लोग समझते हैं कि मोक्ष का अर्थ जीवन-मरण के चक्र से मुक्ति। बहुत से लोग मानते