Benefits of Kamal Kakdi yani Lotus Stem 13 November 2020

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कई फायदों से भरी पौष्टिक और स्वादिष्ट कमल ककड़ी

मोटापा कम करने से लेकर शरीर में हीमोग्लोबिन बढ़ाने तक, कमल ककड़ी कई रूपों में हमारे शरीर को लाभ पहुंचाती है। खासतौर पर सर्दी के मौसम में आनेवाली कमल ककड़ी के टेस्ट को लेकर लोगों की अलग-अलग राय हो सकती है। किसी को इसका टेस्ट बहुत पसंद होता है तो किसी को बिल्कुल पसंद नहीं होता। लेकिन इसे खाने से हमारे शरीर को बहुत अधिक फायदे होते हैं, इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है। आइए, जानते हैं किस तरह कमल ककड़ी हमारे शरीर को पोषण देती है और किन-किन बीमारियों से बचने में हमारी मदद करती है…

वजन घटाने में फायदेमंद

तेजी से वजन घटाने के चाहत रखने वालों के लिए कमल ककड़ी काफी फायदेमंद हो सकती है. मोटापे से परेशान लोगों को कमल ककड़ी अपनी डाइट में शामिल करनी चाहिए! कमल ककड़ी में पोषक तत्वों की भरमार होती है और कैलोरी काफी कम. ऐसे में यह हमारे शरीर में फैट नहीं बनाती और वजन घटाने में फायदा मिल सकता है.

शरीर के लिए लाभदायक

कमल ककड़ी का रस निकालकर मुंह, हाथ व पैर पर लेप करने से वे फटते नहीं हैं तथा मुख सौंदर्य की वृध्दि होती है।

पथरी से मिलेगी निजात

कमल ककड़ी आपके शरीर में से टोक्सिन को दूर करती है और नियमित रूप से ककड़ी का सेवन आपके शरीर में पथरी की आशंका को भी कम करता है साथ ही अगर होती है तो रोग में राहत भी देता है।

बेहोशी होगी दूर

कमल ककड़ी को खाने या ककड़ी व प्याज का रस मिलाकर पिलाने से शराब का नशा उतर जाता है। बेहोशी में ककड़ी काटकर सुंघाने से बेहोशी दूर होती है।

डायबिटीज कंट्रोल करने में लाभदायक

ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है उनकी डाइट. ऐसे में डायबिटिक को ऐसे फूड्स का सेवन करना चाहिए जो ब्लड शुगर लेवल को मैनेज कर कंट्रोल कर सकें. ऐसे ही फूड्स में से एक है कमल ककड़ी. यह सुपरफूड डायबिटीज को कंट्रोल करने में काफी फायदेमंद माना जाता है. लोटस रूट्स में ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जो डायबिटीज में लाभ दे सकते हैं.

फटी त्वचा को ठीक करे

कमल ककड़ी का रस निकालकर मुंह, हाथ व पैर पर लगाने से वे फटते नहीं हैं तथा चेहरे की सुंदरता बढती है।

एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर

कैंसर जैसे घातक रोगों से बचने और हमें फ्री-रैडिकल्स से होने वाले नुकसान की भरपाई डायट में एंटीऑक्सिडेंट की अच्छी मात्रा की आवश्यकता पड़ती है। कमल की जड़ें खाने से शरीर में एंटीऑक्सिडेंट की कमी को पूरा करने में मदद मिल सकती है।

बुखार से राहत दिलाता है

कमल ककड़ी में बुखार को कम करने वाले गुण होते हैं जो आपके बुखार की दवा के रूप में काम करते हैं। कमल ककड़ी से शरीर को ठंडक मिलती है इसीलिए चीन में काफी बहुमूल्य मानते हैं। आप किसी को बुखार से राहत दिलाने के लिए कमल ककड़ी से सूप बनाकर दे सकते हैं।

कमल ककड़ी से सूजन कम होती है

सूजन या इंफ्लेमेशन शरीर में कई तरीकों से उभरता है, जैसे कि मांसपेशियों में दर्द, जोड़ों में दर्द या रैशेज़। इन सभी तकलीफों की जड़ों तक पहुंचने के लिए कमल ककड़ी को अपने भोजन में शामिल करें। यह कंद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होता है।

इन बातों की रखें सावधानी

कई लोग कमल ककड़ी को कच्चा खाना पसंद करते हैं, जिससे उन्हें बैक्टीरियल इंफेक्शन या फिर शरीर में पैरासाइट पहुंचने का डर हो सकता है। कमल ककड़ी को हमेशा पूरी तरह से पका कर ही खाना चाहिये।

      

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen − 15 =

Related Posts

Some Remedies for Headache 22 January 2021

Spread the love          Tweet     🚩सिर के रोग🚩 💫सिरदर्द💫 पहला प्रयोगः घोड़ावज या वायसर (ईश्वर बेल की जड़) का लेप सिर पर लगाने से अथवा नाक में सरसों के तेल की बूँदे टपकाने से

Acidity reasons symptoms and remedies

Spread the love          Tweet     एसिडिटी के कारण क्या हैं मसालेदार चटपटा खाना खाना स्मोकिंग, शराब और दूसरे नशे करना लम्बे समय तक ख़ाली पेट रखना रात का भोजन सही समय पर नही

Walnut details

Spread the love          Tweet     अखरोट खाने का सही तरीका और समय साथ ही होने वाले अधभुत स्वास्थय लाभ अखरोट खाने के सही तरीके इसके अलावा इसमें कई प्रकार के विटामिन होते हैं